Romantic Shayari, Chhupa leta Tujhe Is

छुपा लेता तुझे इस तरह से मेरी बाहों में हवा भी गुज़रजाने के लिए इज़ाज़त मांगे हो जाए तेरे इश्क़ में मदहोश इस तरह की होश भी वापस आने की इज़ाज़त मांगे
Continue reading »

Bujhte hue armaano ka itna hi fasana hai

बुझते हुए अरमानों का इतना ही फ़साना है, इश्क़ में तेरे हर पल हम को रहना है, चाहे सितमगर कितने भी ज़ख़्म दे हमें, इश्क़ में हर ज़ख्म हमें हँसते हुए सहना है.
Continue reading »