Jindagi Shayari in Hindi on Jindagi ne kabhi hasaya kabhi

Jindagi ne kabhi hasaya kabhi rulaya Bhut kuch khoya humne bhut kuch paya Hai nhi fir shikwa gila jindagi se Kunki isne hame kuch sachche dosto se milaya जिंदगी ने कभी हसाया कभी रुलाया बहुत कुछ खोया हमने बहुत कुछ पाया है नही फिर शिकवा...
Continue reading »

Ishq aur Dosti mere Do jahan hai

Last updated on: February 29th, 2016 at 05:24 pmइश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है, इश्क मेरी रुह, तो दोस्ती मेरा ईमान है, इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी पर दोस्ती पर, मेरा इश्क भी कुर्बान है
Continue reading »