Last updated on: February 29th, 2016 at 05:24 pm

इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है,
इश्क मेरी रुह, तो दोस्ती मेरा ईमान है,
इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी पर दोस्ती पर,
मेरा इश्क भी कुर्बान है

Friends- Shayari Jagat

Friends- Shayari Jagat

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name *
Email *
Website